जापान - Japan, जापान का इतिहास तथा धर्म ,पर्यटन के क्षेत्र और वहां से जुड़ी कुछ खास बातें...

जापान - Japan, जापान का इतिहास तथा धर्म ,पर्यटन के क्षेत्र और वहां से जुड़ी कुछ खास बातें...


 जापान कृत देशों में से एक है देश का लगभग तीन चौथाई भूभाग पहाड़ी है इसका कारण इसकी मिलियन जनसंख्या संघ के तटीय मैदानों पर केंद्रित है जापान को प्रशासनिक परंतु और 8 पारंपरिक छेत्र में विभाजित किया गया है ग्रेटर टोक्यो क्षेत्र मिलियन से अधिक निवासियों के साथ दुनिया का सबसे अधिक आबादी वाला महा नगरी क्षेत्र है !

जापान का इतिहास

जापान के प्राचीन इतिहास के संबंध में कोई निशात में जानकारी नहीं प्राप्त है जापानी लोग कथाओं के अनुसार विश्व के लिए माता ने सूर्य देवी चंद्र देवी को भी रचा। फिर उसका पता कि क्यूशू द्वीप पर आया और बाद में उनकी संतान होंशू द्वीप पर फैल गया हालांकि ये कथाएं है इसमें कुछ सच्चाई भी नजर आती है !

जापान से जुड़े रोचक तथ्य

  •  जापान एशिया महाद्वीप के प्रमुख देशों में से एक है यह 4 बड़े और लगभग 6849 छोटे दीपू के समूह से बना है यह सभी द्वीप प्रशांत महासागर का हिस्सा है !
  •  जापान का लगभग 70% हिस्सा पहाड़ी है और 200 से ज्यादा ज्वालामुखी हैं !
  •  जापान में हर साल लगभग 15 से अधिक भूकंप आते हैं !
  •  जापान में एक द्वीप ऐसा भी है जहां हम पर कुत्तों को पालना गैरकानूनी है क्योंकि इस द्वीप पर मात्र 100 लोग रहते हैं लेकिन यहां बिल्लियां की संख्या इन से 4 गुना ज्यादा है !
  • जापान के लोगों का नव वर्ष बनाने का तरीका भी लाजवाब है यहां लोग नववर्ष की खुशी में सर्वप्रथम मंदिर में जाकर 108 बार घंटियां बजाते हैं !
  • जापान के लोग दीर्घायु होते हैं उदाहरण के तौर पर जापान के लगभग 50000 से अधिक लोग की उम्र 100 साल से ज्यादा है !
  •  जापान के लोग साफ-सफाई को लेकर काफी जागरूक हैं यहां तक कि जापान के स्कूलों में भी अध्यापक तथा छात्र मिलकर क्लास रूम की सफाई करते हैं !
  • जापान में खेला जाने वाला प्रसिद्ध खेल सूमो कुश्ती तथा या खेल यहां के लोगों को में सर्वाधिक लोकप्रिय है !
  •  जापान में आत्महत्या करने पर सरकार उसके परिवार को सहायता राशि नहीं देती बल्कि उसके परिवार के द्वारा सरकार को व्यवधान शुल्क देना पड़ता है !
  •  जापान के लोगों को मछली खाना बहुत पसंद है समुद्र से घिरा होने के बावजूद भी जापान 70% मछलियां दूसरे देशों से मगवता आता है !
  •  जापान के पढ़े-लिखे देशों के मामले में जापान का पहला स्थान है जापान के सौ पर्सेंट लोग साक्षर हैं
  •  जापान के संपूर्ण क्षेत्रफल के मात्र 13% भाग पर खेती की जाती है !
  •  जापान में प्रेमी जोड़ों का भी खास ख्याल रखा जाता है जापान के प्रत्येक शहरों में इन जोड़ों के लिए अलग से होटल खुले हैं !
  •  जापान में अपराध नाममात्र ही होते हैं यहां पर 2000000 लोगों में मात्र एक हत्या होती है !

जापान के रहन-सहन -

जापान दुनिया का बड़ा ताकतवर देश में हो जाता है जापान का रहन-सहन काफी प्रचलित है जापान तकनीकी क्षेत्र में काफी तरक्की हासिल किए हुए हैं द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद जापान की हालत काफी कमजोर थी लेकिन अगले कुछ सालों में यहां के लोगों ने इतनी तरक्की की कि वह एशिया का सबसे पहला विकसित देश बन गया !

जापान में मुख्य रूप से 3 बड़े शहर टोक्यो ओसाका और नागोया है जनसंख्या के हिसाब से सबसे बड़ा क्षेत्र टोकियो 3. 4 करोड़ जनसंख्या उषा का क्षेत्र 1.8 करोड़ और नागोया क्षेत्र 1.1 करोड़ यह जनसंख्या जापान की कुल आबादी की आधी मानी जाती है जापानी लोगों को इन क्षेत्र में घर मिलना काफी मुश्किल होता है अगर हम इन शहरों के मध्य भाग के पास रहने की उम्मीद करते हैं तो हमें घर खरीदने के लिए बड़ी मात्रा में धन की आवश्यकता होती है जापान में घर खरीदना है तो इन शहरों से दूर खरीद जा सकता है जापान एक ऐसा देश है जहां पर रहने के लिए जगह बेहद कम है एक बार पश्चात्या ने कहा था कि हां देश खरगोश की तरह है !

जापानी खानपान -

सामान्य तौर पर जापानी लोग दिन में तीन बार भोजन करते हैं लेकिन इनके खाने का समय बेहद कम होता है क्योंकि यह ज्यादातर समय अपने काम को देते हैं ज्यादातर लोग नाश्ते के लिए सुबह बेहद कम खाना खाते हैं क्योंकि उन्हें काम पर जाना होता है !

आमतौर पर दोपहर का भोजन 12:00 बजे शुरू होता है जो घंटे भर का रहता है रात का भोजन भी 1 घंटे के भीतर ही समाप्त हो जाता है अधिकतर जापानी तेजी से खाने के लिए जाने जाते हैं जापानी लोग खाने के लिए चीनी कांटा का इस्तेमाल करते हैं जापानी खाना आमतौर पर हल्का होता है !

जापानी शिक्षा -

जापानी लोग जापानी लोग काफी शिक्षित माने जाते हैं आंकड़ों की माने तो लगभग 100 फ़ीसदी लोग का कभी न कभी स्कूल गए हैं प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालयों में शिक्षा निशुल्क रहती हैं वहीं उच्च विद्यालय विश्वविद्यालयों में छात्रों को पढ़ाई के लिए पैसे दिए जाते हैं जापानी बच्चों को प्राथमिक विद्यालयों में कोई ग्रह कार्य नहीं दिया जाता है जबकि माध्यमिक और उच्च विद्यालयों में छात्रों को निबंध और असाइनमेंट दिए जाते हैं !

जापानी स्कूलों में सफाई करने के लिए किसी बाहरी व्यक्ति को नौकरी पर नहीं रखा जाता है स्कूल के सभी काम बच्चे ही किया करते हैं  !


जापान में पूजा -

जापान में भगवान गणेश को कांगितेन के नाम से जाना जाता है जो जापानी बौद्ध धर्म से संबंध रखते हैं  !

जापान में घूमने की लोकप्रिय जगह हैं !

जापान पर्यटन के लिए बहुत ही सुंदर जगह है यहां ठंड और साफ होने के कारण दुनिया में मशहूर है हर उम्र के लोग चाहे वह बच्चों को या बड़े के लिए यह परफेक्ट प्लेस है युवाओं के लिए तो यह बेस्ट अट्रैक्शन है क्योंकि यहां से कुदरती के नजारे और रंगीन मौसम दिल को तारो ताज कर देते हैं !

माउंट फिजी - 

जापान की सबसे खूबसूरत जगह माउंट फिजी जापान का सबसे ऊंचा पर्वत है और पर्वत रोही ओं के लिए आकर्षक माना जाता है अपनी कुदरती खूबसूरती के कारण हजारों की तादात में विदेशी यहां आते हैं !

 गोल्डन पवेलियन

किनकाकू जी या द टेंपल ऑफ द गोल्डन पवेलियन क्योटो बहुत फेमस टूरिस्ट प्लेस है स्वर्ण मंडप को सोने की पत्ती में कवर किया गया है इस पर लाइटिंग पढ़ने से तालाबों में सोने की महल जैसा प्रतिबिंब नजर आता है !

 डिजनीलैंड टोक्यो -

यहां यहां पर डिज्नी सी में स्विमिंग और बीच पर घूमने का लुफ्त उठा सकते हैं यहां सिंड्रेला कैस्टर नदी में जोडालैस मैजिकल नाइट टाइम इल्यूमिनेशन और फेमस डिज़्नी परेड का नजारा ले सकते हैं टोक्यो दुनिया को सबसे अच्छे शहरों में से एक है !

हाइम जी कैसल-

यह किला अपने ऐतिहासिक महत्व को दर्शाता है इस किले का डिजाइन कुछ कारणों के कारण बार-बार बदला गया जेम्स बॉन्ड की कुछ फिल्मों में भी इसे देखा जा सकता है !

तोदैइजी टेंपल -

तोदैइजी मंदिर सुंदर बगीचों और जंगली जीवो से घिरा हुआ है यह दुनिया का सबसे बड़े कंस बुद्ध प्रतिमा के लिए मशहूर है हिरणों को मैदान में घुमाने के लिए आजादी है !

 गोकूदेनी मंकी पार्क -

स्प्रिंग एरिया है यहां बर्फ पार्कों में मौजूद होती हैं और सर्दियों के मौसम में घाटी में रहने वाले बंदरों के लिए वरदान साबित होती हैं यहां बंदर हॉट स्प्रिंग में बैठते हैं यह पाक हिमपात में गर्म रहने के अलावा मंदिरों की बड़ी आबादी के लिए माना जाता है !

टोक्यो टावर -

इस टावर का डिजाइन एफिल टावर से प्रेरित है पर्यटक इस टावर की चढ़ाई कर सकते हैं !

जापान करेंसी -

जापानी करेंसी का नाम येन है जैसे कि भारतीय रुपए बराबर 1.62 जापानी येन होता है !

जापान  ! धर्म

जापान की 96% जनसंख्या बौद्ध धर्म का अनुसरण करती है चीन के बाद बहुत धावादी वाला जापान सबसे बड़ा देश है शि‌तो धर्म भी यहां काफी प्रसिद्ध है इस धर्म के अधिकतर लोग बौद्ध धर्म का ही पालन करते हैं ताऊ धर्म कंफ्यूसीवाद और बौद्ध धर्म चीन से भी जापानी विश्वासों और सीमा शुल्क को प्रभावित किया है जापान में धर्म प्रकृति समुद्र में हो जाता है और प्रथाओं को एक माता-पिता परीक्षा से पहले प्रार्थना छात्रों माना बच्चों के रूप में ऐसी किस्म में यह परिणाम जोड़ों एक क्रिश्चियन चर्च पर एक शादी पकड़ होने के बौद्ध मंदिर में आयोजित किया जाता है !








Previous Post Next Post