Skip to main content

Disclaimer

Disclaimer

oknews.in provides people with news and information needed The information given by us is not necessarily wrong or correct, we provide our opinion through this blog, which is published correctly to the people and people can easily tell on this also through their comments. That how he liked this information or did anything objectionable in relation to this information, if there are things, then he can tell us through comment or contact.

 oknews.in This is a blogger providing information or in other words, providing necessary information, where you can see the sharing of information.



 2. Use of the Site.

 People of any age can exchange information here through OK News and the information given by it is personal, so if there is any deficiency in this information, you can do any kind of legal or community place on oknews.in Can't blame!

 limit of liability

 (I) You can not take any legal action against any kind of infringement action on our oknews.in blogger because all the information here is provided as per personal understanding.

 If any legal action takes place on oknews.in it will be done in accordance with the applicable laws in India in accordance with the agreements in force in India. You agree that by using oknews.in you do not have any problem and you do not have any dispute with oknews.in

 Our website or blogger can be used by people of any age.


Popular Posts

Oknews - Business and Financial | बिटकॉइन किसने बनाया? ,Who created Bitcoin? बिटकॉइन को बनाने का कारण जो आज एक बिग फाइनैंशल टोकन बन चुका है आइए जानते हैं...?

  बिटकॉइन किसने बनाया?  बिटकॉइन "क्रिप्टोक्यूरेंसी" नामक एक विचार का नंबर एक कार्यान्वयन है, जिसे पहली बार 1998 में साइबरपंक मेलिंग सूची में वेई दाई का उपयोग करके वर्णित किया गया था, जो पैसे के एक नए आकार के विचार का सुझाव देता है जो क्रिप्टोग्राफी का उपयोग अपने आगमन और लेनदेन में हेरफेर करने के लिए करता है।  , एक सरकार की इच्छा में।  पहला बिटकॉइन विनिर्देश और विचार का प्रमाण 2009 में सातोशी नाकामोटो के उपयोग के माध्यम से एक क्रिप्टोग्राफी मेलिंग सूची में प्रकाशित हुआ है।  सातोशी ने 2010 के अंत में अपने बारे में जनता को बताए बिना उद्यम छोड़ दिया।  नेटवर्क उस सच्चाई पर विचार कर रहा है जो बिटकॉइन पर चल रहे कई बिल्डरों के साथ तेजी से बढ़ी है। Who created Bitcoin? Oknews oknews oknews oknews oknews

योग क्या है, योग के माध्यम से अपने सभी चक्रों को जागृत करने के तरीके

योग के माध्यम से अपने सभी चक्रों को  जागृत करने के तरीके Oknews.in योग व माध्यम है जिससे हम स्वयं से अवगत होते हैं तथा स्वयं की सारी शक्तियों का अनुभव तथा प्रयोजन सीखते हैं योग से मानव जीवन की सभी सीमित असीमित उपलब्धियों का ज्ञान होता है !  Oknews.in अध्यात्म जीवन बहुत ही सुंदर और शांतिपूर्ण जीवन होता है मनुष्य के शरीर में बहुत सारे ऐसे दिव्य शक्तियां हैं जिनका उसे एहसास भी नहीं है आज आपके शरीर में इन सभी शक्तियों के भागों का अध्ययन करेंगे  Oknews.in मनुष्य के शरीर में अलग-अलग ऊर्जा स्तर के आधार पर चक्र के रूप में ऊर्जा को दर्शाया गया है इंसान के शरीर में सात ऊर्जा चक्र होते हैं जिनमें से पहला है मूलाधार चक्र :   मूलाधार चक्र क्या मनुष्य के मल द्वार और लिंग के बीचो बीच चार पत्ती वाला एक चक्र होता है इसे आधार चक्र के नाम से भी जाना जाता है और 99% लोगों की चेतना इसी आधार चक्र में रहकर अपना पूरा जीवन व्यतीत कर लेती है और वह इस चक्र में ही रह कर अपना जीवन यापन कर लेते हैं  Oknews.in दूसरे शब्दों में कहें तो जो लोगों के जीवन में भूख संभोग और नींद को अधिक महत्वपूर्ण मानते हैं या अधिकतर इन क

Oknews - Health | बालों के झड़ने को रोकने के लिए निम्न उपाय तथा बालों को मजबूत करने के कुछ घरेलू उपाय

  बालों के झड़ने को रोकने के लिए निम्न उपाय तथा बालों के झड़ने के कारण या कुछ गलतियां जिनकी वजह से बाल झड़ते हैं आजकल की रोजमर्रा के लाइफस्टाइल में बहुत सारे बदलाव ऐसे हुए जिनसे हमारी शारीरिक विकास तथा जरूरी पोषक तत्व जो हमारे शरीर के लिए अत्यंत आवश्यक है उनसे हम काफी दूर हो चुके हैं बालों का झड़ना निम्न प्रकार से रोका जा सकता है तथा कुछ लक्षण हैं जिनकी वजह से बाल झड़ते हैं आइए जानते हैं बालों के झड़ने के कारण लीवर का कमजोर होना दातों तथा हड्डियों में कमजोरी आना पाचन तंत्र ठीक तरीके से काम ना करना शरीर के हर वह इंटरनल ऑर्गन जो भोजन को सुचारू रूप से पचाने का कार्य करते हैं उनका सही तरह से कार्य न करना यह उन्हें सही पोषक तत्व ना मिल पाना यह सभी कारण शरीर में फाइबर की कमी तथा एंटीऑक्सीडेंट की कमी की वजह से होने लगती है और फिर यह कमियां हमारे शरीर के कोलेजन द्वारा पूर्ति की जाती है और शरीर में कोलेजन की कमी हो जाती है जिसकी वजह से हमारे शरीर के हर एक अंग पर इसका असर दिखने लगता है । अक्सर यह ज्यादा प्रॉब्लम महिलाओं के अंदर आता है क्योंकि महिलाओं के अंदर पानी की कमी तथा हिमोग्लोबिन की कमी ज्