अंकुरित खाने के फायदे एवं अंकुरित करने का तरीका...

अंकुरित खाने के फायदे एवं अंकुरित करने का तरीका...


 "अंकुरित खाने के फायद"

 दोस्तों ! अंकुरित अनाज पोषक तत्वों से भरपूर होता है , इसमें प्रोटीन की मात्रा अधिक होती है अंकुरित अनाज का उपयोग हमें कई बीमारियों से बचाता है , सुबह के समय इसका सेवन बहुत ही लाभकारी होता है ,

तो आइए जानते हैं अंकुरित अनाज खाने के मुख्य फायदे-

इम्यूनिटी के लिए -

  •  अंकुरित अनाज का प्रतिदिन सेवन हमारे शरीर के प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है तथा हमारे शरीर में बनने वाले हानिकारक तत्व को बाहर निकालने में मदद करता है !
  • डायबिटीज के लिए -हमारे शरीर को ऊर्जावान बनाए रखने में मदद करता है यह डायबिटीज के मरीजों के लिए बहुत ही लाभकारी होता है !
  • मोटापा के लिए - अंकुरित अनाज में भरपूर मात्रा में फाइबर होता है जिसका सेवन करने से हमारा पेट काफी देर तक भरा रहता है जिससे हमें अत्यधिक कैलोरी लेने से बच जाते हैं और हमारा मोटापा भी नहीं बढ़ता है !
  • त्वचा के लिए- बढ़ती उम्र के साथ त्वचा पर पड़ने वाले निशान को अंकुरित अनाज के सेवन से कम किया जा सकता है अंकुरित अनाज के सेवन से त्वचा में पढ़ने वाले झुर्रियां कम हो जाती हैं और तो त्वचा चमकने लगता है !
  •  पाचन के लिए- अंकुरित अनाज खाने के बाद आसानी से पच जाता है क्योंकि इसमें बड़ी मात्रा में एंजाइम होते हैं जिसको पाचन संबंधित समस्या होती है उसके लिए अंकुरित अनाज का सेवन बहुत ही लाभकारी होता है !
  • आंखों के लिए- आंखों के लिए अंकुरित अनाज का सेवन बहुत ही लाभकारी होता है अंकुरित अनाज में विटामिन ए पाया जाता है जो कि हमारे देश की क्षमता को बेहतर बनाता है !
  • फिटनेस बढ़ाने में -अंकुरित अनाज में प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है इसमें 35% तक प्रोटीन हो सकता है इसलिए जिन लोगों के शरीर में प्रोटीन की कमी है उनको और अंकुरित अनाज जरूर खाना चाहिए ! 
  • हृदय के लिए - अंकुरित अनाज ओमेगा 3 फैटी एसिड का अच्छा स्रोत होता है जो हमारे ह्रदय के स्वास्थ्य के लिए बहुत ही आवश्यक होता है !
  • एनीमिया के लिए- हमारे शरीर में आयरन की कमी एनीमिया या खून की कमी को जन्म देता है आयरन की कमी निजात पाने के लिए हमें नियमित रूप से अंकुरित अनाज का सेवन करना चाहिए !
  • शिशु के लिए- नवजात शिशु के शारीरिक तथा मानसिक दुर्बलता ओं को दूर करने के लिए महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान नियमित रूप से अंकुरित अनाज का सेवन करना लाभदायक होता है !
  • कैंसर में -अंकुरित अनाज के सेवन से हमारे शरीर को भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट विटामिन सी और विटामिन सी डी मिलता है जो ब्रेस्ट कैंसर की बीमारी के खतरे से बचाता है !
  •  बालों के लिए- पाचन तंत्र अच्छा होने के साथ भरपूर विटामिन मिनरल्स तथा प्रोटीन के सेवन से त्वचा तथा बालों की सेहत अच्छी रहती है इसलिए अंकुरित अनाजों का सेवन करें इससे आपके बाल घने होंगे तथा लंबे होंगे !
  • अंकुरित करने का तरीका -  दोस्तों!  यहां आपको अनाजों को अंकुरित करने का बेहतरीन तरीके के बारे में जानकारी मिलेगी अनाजों को अंकुरित करने के लिए हमें अनाजों का चयन करना होगा तथा जिन जिन अनाजों को अंकुरित करना है उन्हें 5 से 6 घंटे के लिए पानी में  भिगो कर रखेंगे !


इसके बाद अनाज को हम पानी के बाहर निकाल लेंगे और उसमें से पानी को अच्छी तरह से निचोड़ लेंगे ध्यान रहे अनाज में बिल्कुल पानी नहीं होना चाहिए उसके बाद सारे अनाज को हम एक कपड़े में लपेट लेंगे कोशिश करें कि कपड़ा मोटा हो, हम तौलिए का भी इस्तेमाल कर सकते हैं यदि मोटा कपड़ा होगा तो उससे बहुत अच्छा रहेगा हमें अंकुरित करने में मोटे कपड़े में एक दिन में ही अंकुरण निकल आएगा इन कपड़े में लपेट अनाजों को एक जालीदार बर्तन में रख लेंगे तथा इस बर्तन को किसी स्टैंड पर या कटोरे के ऊपर रखकर इसे दूसरे किसी छेद वाले बर्तन या किसी प्लास्टिक की टोकरी जिसमें छेद हो से ठग लेंगे जिससे हमारे अनाज को ऊपर तथा नीचे दोनों तरफ से हवा मिलेगी इससे अनाजों को ताजा हवा मिलती रहेगी और अब इसे रात को पूरे 1 दिन के लिए ऐसे ढक कर रखना है अभी से 15 से 16 घंटे के बाद कपड़ों में से खोलेंगे और और देखेंगे कि इनमें छोटे-छोटे अंकुर निकल चुके हैं ।

मॉडर्न जमाने में अंकुरित चाट बनाने का तरीका - दोस्तों! अंकुरित चाट प्रोटीन तथा विटामिन से भरा हुआ होता है इसीलिए इसे प्रोटीन चाट भी कहते हैं यह झटपट बन जाता है अंकुरित चाट में प्रोटीन वेजिटेरियन रूप में जाता है यह प्रोटीन चाक बनाने के लिए हमें अंकुरित किया हुआ काला चना, हरी साबूत मूंग , सोयाबीन के बीज इसके साथ साथ पनीर का उपयोग करेंगे !

सबसे पहले एक बर्तन में अंकुरित काला चना तथा अंकुरित साबुत मूंग दाल को ले लेंगे उसके बाद उसमें कटे हुए पनीर के टुकड़े, साबुत कटा हुआ प्याज, कटे हुए टमाटर, बारीक कटी को धनिया की पत्ती को मिला लेते हैं अगर यह चाट हम गर्मियों के मौसम में बनाते हैं तो इसमें कच्चे आम के कटे हुए टुकड़े भी मिला सकते हैं जिससे कि इसका स्वाद बढ़ जाता है अब हम इसमें कुछ सूखे पाउडर मसाले मिला सकते हैं इन मसालों में हम सबसे पहले काला नमक उसके बाद भुना हुआ जीरा पाउडर तीखापन देने के लिए कटी हुई हरी मिर्च काली मिर्च पाउडर और अपने चाट को चटपटा बनाने के लिए थोड़ा सा चाट मसाला इन मसालों को अच्छे से मिलाने के लिए इसमें थोड़ा सा नींबू का रस मिलाएंगे इन सारी चीजों को अच्छे से मिक्स कर लेंगे इस तरह से हमारा अंकुरित अनाज का चाट या हमारा प्रोटीन चाट तैयार हो जाता है !

अंकुरित अनाज दोस्तों गुणों के भंडार होते हैं इनमें तो भरपूर मात्रा में प्रोटीन विटामिंस और मिनरल्स होते हैं हमें अपने लाइफ में प्रतिदिन एक टाइम तो अंकुरित अनाज का सेवन जरूर करना चाहिए चाहे तो आपने सुबह नाश्ते में ले या तो दोपहर खाने के समय किसी भी तरह से खाता है तो से आप थोड़ा सा पकाकर या उबालकर भी खा सकते हैं क्योंकि बहुत से लोगों को कच्चे अंकुरित अनाज बिल्कुल भी डाइजेस्ट नहीं होते हाल ही में कनाडा की वेबसाइट पर कुछ अंकुरित खाने को लेकर पब्लिश किया गया था कि बच्चे बूढ़े और गर्भवती महिलाएं ज्यादा दिन तक अंकुरित आहार ना खाए क्योंकि अंकुरित करते समय कुछ बैक्टीरिया भी उसमें उत्पन्न हो जाते हैं जो बच्चे बूढ़े और गर्भवती महिलाओं को नुकसान पहुंचा सकते हैं इनके लिए बेहतर यही है कि क्या अंकुरित भोजन को नमक पानी में 10 मिनट उबालकर खाए !

Previous Post Next Post