Aate ke laddu banane ke tarike | आटे के लडडू के बारे में कुछ खास तरीके

Aate ke laddu banane ke tarike | आटे के लडडू के बारे में कुछ खास तरीके


 आज हम आप को ठण्ड के मोसम में खाने वाले आटे के लडडू के बारे में कुछ खास बातें बताएंगे और उन को बनाने का तरीका भी आइए जानते हैं ।

           इस ठण्ड के मौसम में बहुत तरह के लडडू बनाये जाते हैं जैसे चावल के आटे के लडडू और गैहू के आटे के लडडू और गौद के लडडू  और भी विभिन्न प्रकार के पकवान त्योहारों पर हमारे भारत में बनाए जाते हैं ।

लेकिन मैं आज आपके एक एसे लडडू बनाने के बारे में बताये गै जो आप ने कभी नहीं बनाये होगे यह लडडू ठण्ड के मोसम में हमारे लिए बहुत गुणकारी होते हैं कयोकि इन लडडू को बनाने में कुछ खास चीजें लगतीं है जो हमारे शरीर के लिए बहुत गुणकारी होती है कयोकि अकेले आटे के लडडू खाने से हमारे शरीर को कोई ताकत नही मिलती वो तो हम ठण्ड में खाने के लिए बना लेते हैं ।

आज में जो लडडू बनाने के बारे में बताऊँ गी वह हमारे लिए एक दवाई काम करते हैं ।

            यह लडडू बनाने के लिए हम काले चननो का आटा लेगें यह आटा काले चननो को साबित पीस कल लेगें हमे बेसन नहीं लेना हमें साबुत काले चननो को घर पर पीस लेना है या फिर बाहर किसी चककी वाले से पिसवाकर लाना है इस आटे को खाने से हमारे शरीर को बहुत ताकत मिलती है ।

क्योंकि कनक का आटा तो हम रोज ही खाते हैं और लडडू सिर्फ ठण्ड में खाने को मिलतें है ।

आटे के लडडू बनाने के लिए सामग्री :

  • आटा एक किलो
  • देसी खण्ड एक किलो 
  • देसी घी एक किलो
  • काजू 100 ग्राम
  • बादम 100 ग्राम
  • किशमिश 100 ग्राम
  • खसखस 100 ग्राम
  • मगज 100 ग्राम
  • किकर गूद 100 ग्राम
  • काली मिर्च दो चमचे पाऊडर
  • आखरोट 100 ग्राम

  आटे के लडडू बनाने की विधि 

हमें सबसे पहले एक बड़ी कडाई लेनी है उस में सबसे पहले उस में एक किलो देसी घी डालना है घी को अच्छी तरह से गरम करने के बाद उसमें आटा थोड़ा थोड़ा करके आटा डालना है साथ में हिलाते भी रहना है गैस को धिम्मी आच पर ही रखना है हमें इस को लगातार हिलाते रहना है नहीं तो यह आटा जलने लगेगा इस आटे को कम से कम 15 से 20 मिनट लग जाते हैं


 पकने में जब यह आटा आचछी तरह से भुन जाता है तो उस में से खुश बु आने लग जाती है और इस का रग भी बदल जाता है आटा अच्छे से पकने के बाद गेस को बनद कर लो फिर उसी में सारे समान डाल दो सबसे पहले गूद को डालना है उसे दो मिनट तक हिलाते रहना है फिर सारा मेवा डाल दो फिर काली मिर्च डाल दो सबसे लास्ट में आटा थोड़ा सा ठण्डा होने पर उस में हमने देसी खण्ड को डालना है ध्यान रखना कि आटा जयादा ग्रम न हो नहीं तो चिनी पानी छोड़ देगी इस सारे मिकसर को 10 मिनट तक हिलाते रहना है फिर ठण्डा होने पर आप इस को किसी ब्रतन में डाल दो या फिर इस को लडडू बना कर रख लेना हैऔर जब म्रजी चाय ☕ दुध किसी के भी साथ खा सकते हैं 


Previous Post Next Post