Skip to main content

About us

Hello friends, I am oknews.in , thank you very much for keeping your love for the past many years and we wish you a better life, friends, through oknews.in, we do everything necessary which is often used in daily routine.  We bring such information to you through oknews.in oknews.in News of every area will reach you and we will also expose the wrong news on oknews.in

 TRENDING

 TOP STORIES

 BUSINESS

 POLITICS

 HEALTH

 EDUCATION AND FAMILY

 SCIENCE AND ENVIRONMENT

 TECHNOLOGY

 ENTERTAINMENT

 Sports  will provide many more types of information which will always be useful for you to move ahead in life!

 Every information that is necessary for a common person and every trick and information that every common person should know, we will display all the information here, we believe that you love us as much as you have given us so far.  Will give more love to him even further

 In the world of information, it will be our endeavor that we provide you the best news and you should be well aware of the country and the world.

 We thank you humbly and pray to God that you may be happy with your family

 Let's keep laughing friends, keep smiling and keep moving forward, smile is the companion of every difficulty in this life!


Popular Posts

Oknews - Business and Financial | बिटकॉइन किसने बनाया? ,Who created Bitcoin? बिटकॉइन को बनाने का कारण जो आज एक बिग फाइनैंशल टोकन बन चुका है आइए जानते हैं...?

  बिटकॉइन किसने बनाया?  बिटकॉइन "क्रिप्टोक्यूरेंसी" नामक एक विचार का नंबर एक कार्यान्वयन है, जिसे पहली बार 1998 में साइबरपंक मेलिंग सूची में वेई दाई का उपयोग करके वर्णित किया गया था, जो पैसे के एक नए आकार के विचार का सुझाव देता है जो क्रिप्टोग्राफी का उपयोग अपने आगमन और लेनदेन में हेरफेर करने के लिए करता है।  , एक सरकार की इच्छा में।  पहला बिटकॉइन विनिर्देश और विचार का प्रमाण 2009 में सातोशी नाकामोटो के उपयोग के माध्यम से एक क्रिप्टोग्राफी मेलिंग सूची में प्रकाशित हुआ है।  सातोशी ने 2010 के अंत में अपने बारे में जनता को बताए बिना उद्यम छोड़ दिया।  नेटवर्क उस सच्चाई पर विचार कर रहा है जो बिटकॉइन पर चल रहे कई बिल्डरों के साथ तेजी से बढ़ी है। Who created Bitcoin? Oknews oknews oknews oknews oknews

योग क्या है, योग के माध्यम से अपने सभी चक्रों को जागृत करने के तरीके

योग के माध्यम से अपने सभी चक्रों को  जागृत करने के तरीके Oknews.in योग व माध्यम है जिससे हम स्वयं से अवगत होते हैं तथा स्वयं की सारी शक्तियों का अनुभव तथा प्रयोजन सीखते हैं योग से मानव जीवन की सभी सीमित असीमित उपलब्धियों का ज्ञान होता है !  Oknews.in अध्यात्म जीवन बहुत ही सुंदर और शांतिपूर्ण जीवन होता है मनुष्य के शरीर में बहुत सारे ऐसे दिव्य शक्तियां हैं जिनका उसे एहसास भी नहीं है आज आपके शरीर में इन सभी शक्तियों के भागों का अध्ययन करेंगे  Oknews.in मनुष्य के शरीर में अलग-अलग ऊर्जा स्तर के आधार पर चक्र के रूप में ऊर्जा को दर्शाया गया है इंसान के शरीर में सात ऊर्जा चक्र होते हैं जिनमें से पहला है मूलाधार चक्र :   मूलाधार चक्र क्या मनुष्य के मल द्वार और लिंग के बीचो बीच चार पत्ती वाला एक चक्र होता है इसे आधार चक्र के नाम से भी जाना जाता है और 99% लोगों की चेतना इसी आधार चक्र में रहकर अपना पूरा जीवन व्यतीत कर लेती है और वह इस चक्र में ही रह कर अपना जीवन यापन कर लेते हैं  Oknews.in दूसरे शब्दों में कहें तो जो लोगों के जीवन में भूख संभोग और नींद को अधिक महत्वपूर्ण मानते हैं या अधिकतर इन क

Oknews - Health | बालों के झड़ने को रोकने के लिए निम्न उपाय तथा बालों को मजबूत करने के कुछ घरेलू उपाय

  बालों के झड़ने को रोकने के लिए निम्न उपाय तथा बालों के झड़ने के कारण या कुछ गलतियां जिनकी वजह से बाल झड़ते हैं आजकल की रोजमर्रा के लाइफस्टाइल में बहुत सारे बदलाव ऐसे हुए जिनसे हमारी शारीरिक विकास तथा जरूरी पोषक तत्व जो हमारे शरीर के लिए अत्यंत आवश्यक है उनसे हम काफी दूर हो चुके हैं बालों का झड़ना निम्न प्रकार से रोका जा सकता है तथा कुछ लक्षण हैं जिनकी वजह से बाल झड़ते हैं आइए जानते हैं बालों के झड़ने के कारण लीवर का कमजोर होना दातों तथा हड्डियों में कमजोरी आना पाचन तंत्र ठीक तरीके से काम ना करना शरीर के हर वह इंटरनल ऑर्गन जो भोजन को सुचारू रूप से पचाने का कार्य करते हैं उनका सही तरह से कार्य न करना यह उन्हें सही पोषक तत्व ना मिल पाना यह सभी कारण शरीर में फाइबर की कमी तथा एंटीऑक्सीडेंट की कमी की वजह से होने लगती है और फिर यह कमियां हमारे शरीर के कोलेजन द्वारा पूर्ति की जाती है और शरीर में कोलेजन की कमी हो जाती है जिसकी वजह से हमारे शरीर के हर एक अंग पर इसका असर दिखने लगता है । अक्सर यह ज्यादा प्रॉब्लम महिलाओं के अंदर आता है क्योंकि महिलाओं के अंदर पानी की कमी तथा हिमोग्लोबिन की कमी ज्