Type of Electric

Type of Electric

इलेक्ट्रिक दो प्रकार के होते हैं पहला प्रत्यावर्ती धारा दूसरा दिष्ट धारा इनको अल्टरनेटिंग करंट AC और डायरेक्ट करंट DC भी कहते हैं घरों में मीटर में जो बिजली आती है उसे AC Alternating Current कहते हैं और जो हमें बैटरी के द्वारा प्राप्त होती है उसे DC कहते हैंं


Oknews

विद्युत प्रतिरोध अत्यधिक प्रतिरोध के कारण हो सकता है जो निम्न में से गर्मी उत्पन्न करता है:

  • बहुत अधिक तारों के माध्यम से उपकरण को चलाया जा रहा है और उपकरण ज्यादा करंट लेता हो तो electric wire धीरे-धीरे गर्म होने
  •  दोषपूर्ण बिजली के आउटलेट जिसके परिणामस्वरूप खराब संपर्क उत्पन्न होता है
  •  खराब वायरिंग कनेक्शन और पुरानी वायरिंग जो क्षतिग्रस्त है और लोड का समर्थन नहीं कर सकती है
  •  विस्फोट तब हो सकता है जब बिजली हवा में ज्वलनशील गैस या दहनशील धूल मिश्रण को प्रज्वलित करती है। शॉर्ट सर्किट या स्टैटिक चार्ज से इग्निशन संभव है।

 आप क्या जानना चाहते है 

विद्युत सुरक्षा मूल बातें जिसको हम निम्न प्रकार से नीचे व्यक्त करते हैं

  •  50 वोल्ट या अधिक ले जाने वाले उजागर कंडक्टर के साथ काम न करें।
  •  सुनिश्चित करें कि विद्युत उपकरण ठीक से जुड़ा हुआ है, ग्राउंडेड (earthing) है और अच्छे कार्य क्रम में है।
  •  एक्सटेंशन डोरियों को स्थायी वायरिंग के रूप में इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है और किसी गतिविधि या घटना के लिए अस्थायी उपयोग के बाद हटा दिया जाना चाहिए।
  •  बिल्ट-इन सर्किट ब्रेकर्स के साथ सर्ज सप्रेसर्स का उपयोग लंबे समय तक किया जा सकता है और यह तीन, छह और 15 फुट लंबे डोरियों के साथ उपलब्ध हैं।
  •  स्पेस हीटर, पोर्टेबल एयर कंडीशनर और अन्य उपकरण जैसे उच्च एम्परेज उपकरण को सीधे स्थायी दीवार के रिसेप्टल्स में प्लग किया जाना चाहिए।
  •  जब तक आप विशेष रूप से योग्य और ऐसा करने के लिए अधिकृत नहीं हैं, तब तक सर्किट ब्रेकर पैनल सहित किसी भी इमारत की विद्युत सेवा का उपयोग, उपयोग या परिवर्तन न करें।
  •  गीले वातावरण से बिजली के झटके का खतरा बढ़ सकता है।
  •  विस्तार डोरियों और बिजली के नल सहित विद्युत डोरियों के बारे में अधिक जानकारी के लिए, एक्सटेंशन कॉर्ड, सर्ज सप्रेसर्स और पावर स्ट्रिप्स फोकस शीट देखें।

 Oknews

  • बिजली से होने वाले नुकसान के प्रकार
  • Electrical shock बिजली का झटका
  • बिजली के संपर्क में आने से जो नुकसान होता है उसे बिजली का झटका बोलते हैं। 
  •   बिजली के झटके दो तरह के होते हैं एक डायरेक्ट और दूसरा इनडायरेक्ट डायरेक्ट बिजली का झटका वह झटका होता है जो किसी कंटीन्यूअस सप्लाई चल रहे वायर को टच करने पर होने वाले नुकसान को डायरेक्ट बिजली का झटका बोलते हैं। 
  • इनडायरेक्ट बिजली का झटका वह होता है जो किसी दूसरे माध्यम के द्वारा हमें बिजली का झटका लगता है जैसे बिजली के तारों से भीगे हुए पेड़ अगर टच में हो तो हम अगर पेड़ को टच करेंगे तो हमें जो झटका लगेगा वह इनडायरेक्ट बिजली का झटका होगा यह झटका कम होता है और इसमें हानि कम होती है। 
  • Sparking बिजली के दो पोटेंशियल होते हैं एक प्लस दूसरा माइनस अथवा दूसरे शब्दों में इसे गरम तार और ठंडा तार के नाम से भी जानते हैं अथवा दूसरे फेज और न्यूट्रल के रूप में जानते हैं
  • इन दोनों प्रकार के तारों को जब आपस में संपर्क में आते हैं तो एक चिंगारी निकलती है यह यह चिंगारी बहुत ही खतरनाक होती है अगर यह पेज और न्यूट्रल में बह रही धारा हजार किलो बोल्ट हो या इससे ऊपर हो। इसलिए हमेशा इलेक्ट्रिक कनेक्शन सप्लाई को बंद करके ही करना चाहिए। 
  • Electrical fire सही तरह के इलेक्ट्रिक वायर ना होने की वजह से या सही ढंग से इलेक्ट्रिक वायर का कनेक्शन ना करने की वजह से इलेक्ट्रिकल आग लग जाती है जो काफी खतरनाक होती है ऐसी आग पर कभी भी पानी नहीं डालना चाहिए। इसे हमेशा फायर सिलेंडर से ही बुझाना चाहिए अथवा रेत के द्वारा बुझाना चाहिए।  
  • Explosion इलेक्ट्रिक के द्वारा विस्फोट बड़े-बड़े पावर हाउसों में अक्सर होते हैं बड़े-बड़े पावर हाउसों में इलेक्ट्रिक सप्लाई में इलेक्ट्रोलाइट कैप सीटर लगाते हैं जो कभी-कभी ब्लास्ट कर सकता है या फिर इलेक्ट्रिकल शॉर्ट सर्किट में भी विस्फोट भयंकर होता है ऐसी सिचुएशन में हमेशा सप्लाई को बंद कर देना चाहिए। 
  • Oknews

Previous Post Next Post