पर्वतासन - सरल तरीका द्वारा योग करना ( पर्वतासन )

 सरल तरीका द्वारा योग करना 

( पर्वतासन )

इस असम में पर्वत की तरह आकृति बनाते हैं इसलिए इसे पर्वतासन कहते हैं ( संस्कृत में पर्वत का अर्थ है पहाड़ )

पर्वतासन करने का तरीका - 

सबसे पहले सीधे खड़े होकर श्वास अंदर भरते हुए अपने दोनों हाथ ऊपर उठा लेते हैं इसके बाद धीरे-धीरे नीचे झुकते हुए हथेलियों को जमीन से टिका देते हैं अब पैरों को धीरे धीरे पीछे की ओर ले जाते हैं सिर अंदर की ओर एवं एड़ियां जमीन पर पूरी तरह टिकी होती है यह पर्वतासन है इसके बाद स्वास्थ उड़ते हुए वापस पहली अवस्था में आ जाते हैं पर्वतासन की इस स्थिति मैं हाथों को पैरों से थोड़ी सी दूर पर रखते हुए हाथों के बल धीरे-धीरे आगे चलना हस्तचलासन कहलाता है ।


पर्वतासन करने के लाभ - 

मन की एकाग्रता को बढ़ाने में लाभकारी होता है पर्वतासन, लंबाई बढ़ाने का यह मुख्य आसान है इस आसन से शरीर में स्फूर्ति तथा ताजगी बनी रहती है ।

Previous Post Next Post